| Beta Version

हिंदी पखवाड़ा

राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद में हिन्दी पखवाड़ा 2020 का आयोजन

हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी परिषद में हिन्दी पखवाड़ा मनाया जा रहा है। पूर्व वर्षों के अनुरूप वर्ष 2020 में भी लिखित प्रतियोगिताओं का आयोजन प्रस्तावित था लेकिन कोविड-19 के कारण उत्पन्न परिस्थितियों के परिणामस्वरूप और वर्तमान कोविड-19 महामारी के परिप्रेक्ष्य में केंद्र सरकार द्वारा समय समय पर जारी दिशा-निर्देशों, मानक प्रचालन प्रक्रिया (SOP) को ध्यान में रखते हुए कार्यक्रमों को यथासंभव ऑनलाइन तरीके से आयोजित करने की अपेक्षा को दृष्टिगत रखते हुए परिषद में प्रतियोगिताओं के आयोजन के स्थान पर हिन्दी की संभावनाएं और चुनौतियाँ और राजकाज की भाषा हिन्दी नामक विषयों पर परिचर्चा, सुनो कहानी शीर्षक से लघु कहानी तथा प्रतिष्ठित कवि की काव्य रचना प्रस्तुत करने के साथ साथ हिंदी के कुछ साहित्यकारों और कविओं आदि की रिकॉर्डिंग प्रस्तुत की जाएगी। परिषद के कार्मिकों के उत्साहवर्धन के लिए आज की कहानी शीर्षक से परिषद के कार्मिकों द्वारा लिखी गई (हिन्दी में टंकित ) कहानी और हिन्दी की विकास यात्रा - वर्तमान स्थिति और भावी संभावनाएं विषय पर लिखे गए (हिन्दी में टंकित ) निबंधों में से चयनित श्रेष्ठ निबंध प्रस्तुत किए जाएंगे।

परिषद के कार्मिक इस वेबपेज पर अपनी कहानी, निबंध तथा कविताएं प्रस्तुत कर सकते हैं।

लाइव देखे
हिंदी पखवाड़ा कार्यक्रम का विवरण (14-28 सितम्बर,2020)


कार्यक्रम लिखित/ प्रतुति वीडियो
हिन्दी दिवस के अवसर पर माननीय शिक्षा मंत्री जी का संदेश -देखने के लिए यहाँ क्लिक करे।
सुनो कहानी डा. जयश्री सेठी
निबंध परिषद के कार्मिकों द्वारा लिखित
कविता परिषद के कार्मिकों द्वारा लिखित
परिचर्चा -हिन्दी की संभावनाएं और चुनौतियाँ प्रो. संध्या सिंह व प्रो. उषा शर्मा
परिचर्चा- राजकाज की भाषा हिन्दी प्रो. उषा शर्मा
काव्य रचना श्री सुनील जोगी (पद्मश्री)
हिंदी पखवाड़ा सन्देश

कविताएं

कहानियां

हिंदी साहित्यकार एवं कवि